शुक्रवार, 23 सितंबर 2011

बेटियां

बहुत खुशी की बात है कि मेरी कविता बेटियां की कुछ पंक्तियां युनाइटेड नेशन्स पापुलेशन फ़ण्ड द्वारा मध्य प्रदेश में बालिका शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिये चलाये जा रहे प्रोजेक्ट में पोस्टर,बैनर्स,और फ़्लैक्स के लिये चुनी गयी हैं।ये सभी बैनर्स,पोस्टर्स और फ़्लैक्स वहां के सभी स्कूलों,सरकारी कार्यालयों में लगाये गये हैं। मैं यह खुशी आप सभी के साथ बांटना चाहती हूं।

पूनम


55 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

वाह, बहुत ही अच्छा, बधाई हो।

Rakesh Kumar ने कहा…

अरे वाह! यह तो बहुत ही खुशी की बात बताई है आपने.
आपकी कविता भी तो बहुत शानदार है.

बहुत बहुत हार्दिक बधाई आपको.

मेरे ब्लॉग पर आपका इंतजार है.

Gyandutt Pandey ने कहा…

बधाई हो जी!

रश्मि प्रभा... ने कहा…

bahut bahut badhaai, shubhkamnayen

Pallavi ने कहा…

बधाई हो जी बहुत-बहुत शुभकामनायें इस विषय पर मैंने भी एक पोस्ट लिखी थी कभी....
समय मिले कभी तो आइये गा मेरी पोस्ट पर आपका स्वागत है
http://mhare-anubhav.blogspot.com/

shikha varshney ने कहा…

वाह वाह वाह ..बहुत अच्छा लगा जानकार . बहुत बहुत बधाई आपको.

दीर्घतमा ने कहा…

आपकी कविता तो बहुत अच्छी होती ही है
बहुत-बहुत बधाई
धन्यवाद.

मनोज कुमार ने कहा…

बहुत अच्छी प्रस्तुति।
अब कैसी हैं आप?

Roshi ने कहा…

बहुत बहुत बधाई ,बहुत गर्व की बात है

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

आपकी कविता शानदार है.
बधाई हो !!


तुमने जो संताप दिए हैं,
हमने तो चुपचाप सहे हैं,
जब हमने पत्थर खाए हैं,
तुमने केवल रास किया है,
हमने तो बस गरल पिया है !१!


मुझे नहीं दुःख ,नहीं मिले तुम,
आत्मा के भी होंठ सिले तुम,
मौन तुम्हारा तुम्हें डसेगा,
तुमने केवल हास किया है,
हमने तो बस गरल पिया है !२!

क्या बड़ा ब्लॉगर टंकी पर ज़रूर चढता है ?

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

and please see
एक आवाज़ कन्या भ्रूण रक्षा के लिए Against Female Feticide (Video)

सतीश सक्सेना ने कहा…


"घर की हैं मुस्कान बेटियां
सबके मन का मान बेटियां
मान बापू और कुनबे भर की
सचमुच होती जान बेटियां !"

प्रभाव शाली सत्य है, इस रचना में ! शब्द और लय ने जान डाल दी यहाँ !

एक स्नेही दिल से निकली इन लाइनों ने बहुत प्रभावित किया !

बधाई !!!!

सदा ने कहा…

वाह ...यह तो बहुत ही खुशी की बात‍ है और आपकी इस उपलब्धि पर अनन्‍त शुभकामनाएं ...आभार ।

minoo bhagia ने कहा…

bahut bahut badhai poonam , god bless you

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बहुत बहुत बधाई

ashish ने कहा…

बधाई हो पूनम जी . ख़ुशी हुई .

Ravi Rajbhar ने कहा…

Adarniya poonam ji,
sadar namskar....
facebook par is link ka pata chala
apko bahut bahut badhai...
ap yu hi shoharat ki bulandi tak jaye..!

Hame bhi garv hoga...!!

Abhar
Ravi

संजय भास्कर ने कहा…

बधाई हो जी बहुत-बहुत शुभकामनायें

संजय भास्कर ने कहा…

..... शानदार कविता

बहुत बहुत हार्दिक बधाई आपको....!

mahendra srivastava ने कहा…

बहुत सुंदर,
ढेर सारी शुभकामनाएं।

प्रेम सरोवर ने कहा…

बहुत ही सुंदर पोस्ट । बेटियों को भी ध्यान में ऱखना आवश्यक है । मेरे पोस्ट पर आपका स्वागत है । धन्यवाद ।

रचना दीक्षित ने कहा…

अरे वाह पूनम जी बहुत बधाई हो, यह तो बहुत अच्छी बात हुई.

Arti ने कहा…

Came here from Rakesh Kumar ji's blog... Many congratulations to you Mam.
Shubh Din:)

kshama ने कहा…

Waqayee ye bahut khushee kee baat hai! Badhayee ho!

virendra ने कहा…

uplabdhi ke liye badhaai

अनामिका की सदायें ...... ने कहा…

waah ji kya baat hai....aap to chha gayi ji. bahut bahut badhaiyan.

Dr.Bhawna ने कहा…

ye to bahut khushi ki baat hai aapko meri or se hardik badhai....

Babli ने कहा…

बहुत बढ़िया लगा! आपको ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें !

Kunwar Kusumesh ने कहा…

बेटी को बधाई और बधाई आपको भी.

Sunil Kumar ने कहा…

बहुत बहुत हार्दिक बधाई.....

Vivek Jain ने कहा…

बहुत-बहुत बधाई,
विवेक जैन vivj2000.blogspot.com

G.N.SHAW ने कहा…

बहुत - बहुत बधाई पूनम जी ! मुझे भी जान कर ख़ुशी हुयी की सरकारी कार्य के लिए ऐसी कविता चुनी गयी ! अभी to और आगे जाना है , प्रयत्न जारी रखे!

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत सुन्दर...हार्दिक बधाई..आभार

सुमन'मीत' ने कहा…

bahut bahut badhai...

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…





आपकी उपलब्धि के बारे में जान कर बहुत अच्छा लगा …
हृदय से बधाई !
आपको निरंतर नित नई सफलताएं मिलें … यही कामना है !

आपको सपरिवार
नवरात्रि पर्व की बधाई और शुभकामनाएं-मंगलकामनाएं !

-राजेन्द्र स्वर्णकार

दिगम्बर नासवा ने कहा…

वाह ... ये तो बहुत अच्छी बात है ... बधाई हो आपको ...

Babli ने कहा…

आपको एवं आपके परिवार को नवरात्रि पर्व की हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें !

श्रीप्रकाश डिमरी /Sriprakash Dimri ने कहा…

बहुत ही सुन्दर ह्रदय स्पर्शी रचना ..शुभ कामनाएं !!!

NEELKAMAL VAISHNAW ने कहा…

पूनम जी बहुत सुन्दर है यह प्रोजेक्ट और आपकी कवितायें
MADHUR VAANI
BINDAAS_BAATEN
MITRA-MADHUR

dheerendra11 ने कहा…

घर की मुस्कान बेटियां...मुझे बहुत ही अच्छी लगी,उपलब्धि के लिए बधाई, मैंने भी 'वजूद, शीर्षक पर बेटियों के भूर्ण हत्या वावत लिखा है आपको पसंद आयेगी,यदि समय निकल सके तो मेरे ब्लॉग में आपका स्वागत है तथा आपके विचार चाहुगां..

नवरात्रीपर्व की बधाई एवं शुभकामनायें....

pragya ने कहा…

बहुत-बहुत बधाई हो पूनम जी!

Udan Tashtari ने कहा…

वाह वाह!! बहुत बहुत बधाई...अब तो मिठाई ड्यू हो गई जी.

दिलबाग विर्क ने कहा…

बधाई
ग़ज़ल पसंद आए तो कृपया LIKE करें

Babli ने कहा…

दुर्गा पूजा पर आपको ढेर सारी बधाइयाँ और शुभकामनायें !
मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
http://seawave-babli.blogspot.com
http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

Suman Dubey ने कहा…

puunm ji nmaskaar aapki kvita ko yah smman mila bahut bahut badhaai

आशा जोगळेकर ने कहा…

बधाई पूनम जी बहुत बधाई । कविता भी प्यारी प्यारी है बेटी की तरह ।

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

आज कुमार राधा रमण जी की पोस्ट साभार पेश की जा रही है और साथ में एक फोटो जो मीनाक्षी पंत जी के ब्लॉग से लिया गया है :
प्रसव के बाद माता-पिता में पैदा होने वाला अवसाद
http://pyarimaan.blogspot.com/2011/10/blog-post_05.html

Patali-The-Village ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति| विजय दशमी की हार्दिक शुभकामनाएं|

Suman ने कहा…

bahut bahut badhai aapko ...

रविकर ने कहा…

बेस्ट ऑफ़ 2011
चर्चा-मंच 790
पर आपकी एक उत्कृष्ट रचना है |
charchamanch.blogspot.com

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

dil se badhai...:)
aaj to aapka janamdin bhi hai... to janmotsav ki badhai aur shubhkamnayen...

veerubhai ने कहा…

"घर की हैं मुस्कान बेटियां
सबके मन का मान बेटियां
माँ बापू और कुनबे भर की
सचमुच होती जान बेटियां !"
माँ इससे सुन्दर विचार कविता और क्या होगी .बधाई इस कविता के चयन पर .

dheerendra ने कहा…

बहुत अच्छी प्रस्तुति,बेहतरीन सुंदर रचना,...


MY NEW POST ...कामयाबी...

dheerendra ने कहा…

मै तो आपका सर्थक पहले से ही हूँ आप भी समर्थक बने तो मुझे हार्दिक खुशी होगी,..

MY NEW POST ...कामयाबी...

संजु मौर्य ने कहा…

बहुत ही सुंदर है आपकी कविता