शुक्रवार, 14 सितंबर 2012

गज़ल


खाली बोतल जाम है खाली,बन्द पड़े सारे मयखाने
कष्ट बड़ा जीवन में है रब,टूट गये सारे पैमाने।

सबकी देहरी घूम के देखा,सबके अपने हैं अफ़साने
दुख की घड़ियां गिनता कोई,कोई बुनता नये ठिकाने।

तिनका तिनका जोड़ के इक दिन,पूरे हुये थे मेरे सपने
वक्त ने करवट ऐसी कुछ ली,अपने तिनके हुये बेगाने।

हवा यहां कुछ ऐसी बहकी,कोई अपने खून को ना पहचाने
जान चुका था मै भी तब तक,निकले ही थे वो उड़ जाने।

जैसे भटका हुआ मुसाफ़िर,लौट ही आता अपने ठिकाने
अपनी क़िस्मत कब बदलेगी,हम भी देते रब को ताने।
              000
पूनम

28 टिप्‍पणियां:

महेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा…

बहुत सुंदर

ई. प्रदीप कुमार साहनी ने कहा…

सुंदर गजल | खूब लिखा है |
मेरी पोस्ट में आपका स्वागत है |
जमाना हर कदम पे लेने इम्तिहान बैठा है

JHAROKHA ने कहा…

aap sabhi blogger bade janon avam chhoton se mai hardik -hardik xhama chahti hun ki aap logon ke poston ko padh kar main un parr chah kar bhi comments nahi de paati hun.
aasha haiaap sabhi meri sthiti ko jaan kar mujhe hriday se xhma karenge-------.
meri saari posten is waqt mere
shrimaan ji hi dalten hain.
bhaynkar sir dard v thayoride ke badhh jaane se ungliyon me kampan si hoti rahti hai.
mai bas kisi tarah rachnaayein likh ya bol deti hun .fir inko jab bhi mouka milta hai meri post dall dete hain.
bavjud iske aap sabhi mere blog par aakar apne comments dete hain to bahut bahut hi achcha lagta hai.
isi tarah aap sabhi ke sneh v pyaar ki aakanxhi-------
punsch dil se aap sabki aabhaari-----poonam

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सूर्य की हर नयी किरण आस लेकर आती है,
हवा का नया झोंका अनुप्राणित कर जाता है।

"अनंत" अरुन शर्मा ने कहा…

बेहद खुबसूरत ग़ज़ल

Andaman Holiday Packages ने कहा…

I was very encouraged to find this site. I wanted to thank you for this special read. I definitely savored every little bit of it and I have bookmarked you to check out new stuff you post.

Andaman Holidays ने कहा…

Good efforts. All the best for future posts. I have bookmarked you. Well done. I read and like this post. Thanks.

andaman honeymoon package ने कहा…

The post is very informative. It is a pleasure reading it. I have also bookmarked you for checking out new posts.

andaman honeymoon package ने कहा…

The post is very informative. It is a pleasure reading it. I have also bookmarked you for checking out new posts.

Andaman Packages ने कहा…

Thanks for writing in such an encouraging post. I had a glimpse of it and couldn’t stop reading till I finished. I have already bookmarked you.

andaman tour booking ने कहा…

The post is handsomely written. I have bookmarked you for keeping abreast with your new posts.

andaman tour package ने कहा…

It is a pleasure going through your post. I have bookmarked you to check out new stuff from your side.

Andaman Travel ने कहा…

A very well-written post. I read and liked the post and have also bookmarked you. All the best for future endeavors.

andaman travel agents ने कहा…

I was very encouraged to find this site. I wanted to thank you for this special read. I definitely savored every little bit of it and I have bookmarked you to check out new stuff you post.

Andaman Travel Packages ने कहा…

Good efforts. All the best for future posts. I have bookmarked you. Well done. I read and like this post. Thanks.

honeymoon package andaman ने कहा…

Thanks for showing up such fabulous information. I have bookmarked you and will remain in line with your new posts. I like this post, keep writing and give informative post...!

Trip To Andaman ने कहा…

The post is very informative. It is a pleasure reading it. I have also bookmarked you for checking out new posts.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

हिन्दी पखवाड़े की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!
--
बहुत सुन्दर प्रविष्टी!
इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (16-09-2012) के चर्चा मंच पर भी होगी!
सूचनार्थ!

JHAROKHA ने कहा…

many-many thanks all of you for like my post.------------------
poonam

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

खाली बोतल जाम है खाली,बन्द पड़े सारे मयखाने
कष्ट बड़ा जीवन में है रब,टूट गये सारे पैमाने।

सबकी देहरी घूम के देखा,सबके अपने हैं अफ़साने
दुख की घड़ियां गिनता कोई,कोई बुनता नये ठिकाने।


हवा यहां कुछ ऐसी बहकी,कोई अपने खून को ना पहचाने(खून ही अपना न पहचाने ?)लय भंग होती है यहाँ .प्रस्तुति बहुत आला दर्जे की है .
जान चुका था मै भी तब तक,निकले ही थे वो उड़ जाने।

Reena Maurya ने कहा…

बहुत ही बेहतरीन गजल...
:-)

vandana ने कहा…

बहुत सुन्दर रचना

Anupama Tripathi ने कहा…

jeevan ka raag hai ye ...
sundar rachna ...!!
shubhkamnayen ..!!

Kailash Sharma ने कहा…

तिनका तिनका जोड़ के इक दिन,पूरे हुये थे मेरे सपने
वक्त ने करवट ऐसी कुछ ली,अपने तिनके हुये बेगाने।

,,,,आज का कटु सत्य..बहुत प्रभावी अभिव्यक्ति..

प्रेम सरोवर ने कहा…

बहुत ही अच्छा गजल। मेरे नए पोस्ट 'समय सरगम' पर आपका इंतजार रहेगा।

प्रेम सरोवर ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति। मेरे नए पोस्ट "बहती गंगा" पर आप सादर आमंत्रित हैं। धन्यवाद।

Rakesh Kumar ने कहा…

अपनी क़िस्मत कब बदलेगी,हम भी देते रब को ताने।

वाह!पूनम जी.
क्या गजल लिखी है आपने.
आप सदा सुखी और स्वस्थ रहें यही मंगलकामना
करता हूँ,

हारिये न हिम्मत बिसारिये न हरि नाम.

राकेश कौशिक ने कहा…

वाह वाह - अति सुंदर